TET पहली बार होगा लाइव सर्विलांस

28 नवंबर को दो पालियों में प्रस्तावित उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा (टीईटी) का पहली बार लाइव सर्विलांस होगा। सीसीटीवी से परीक्षा केंद्र की सभी गतिविधियों की निगरानी राज्य स्तर पर नियंत्रण कक्ष से की जाएगी। ठीक उसी प्रकार जैसे उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग की प्रारंभिक अर्हता परीक्षा में किया गया था। यूपी बोर्ड की हाईस्कूल और इंटर परीक्षा की भी ऐसे ही वेबकास्टिंग होती है।
परीक्षा की निगरानी के लिए एसटीएफ और एलआईयू को भी लगाया गया है। परीक्षा केंद्र पर व्यवस्थापक, नामित पर्यवेक्षक एवं स्टैटिक मजिस्ट्रेट को भी कैमरा युक्त मोबाइल या स्मार्टफोन ले जाने की अनुमति नहीं है। परीक्षा शुरू होने के एक घंटे पहले प्रश्नपुस्तिकाओं के पैकेट खोले जाएंगे। पैकेट खोलने और परीक्षा के बाद उसकी पैकिंग/सीलिंग की वीडियोग्राफी कराकर उसकी सीडी भेजी जाएगी।
28 नवंबर को 10 से 12:30 बजे की पहली पाली में प्राथमिक स्तर की परीक्षा में पंजीकृत 12,91,628 अभ्यर्थियों के लिए 2554 केंद्र जबकि 2.30 से 5 बजे की दूसरी पाली में उच्च प्राथमिक स्तर की परीक्षा में पंजीकृत 8,73,553 अभ्यर्थियों के लिए 1747 केंद्र बनाए गए हैं।
खास-खास
-प्रत्येक 30 अभ्यर्थियों पर दो कक्ष निरीक्षक होंगे, लेकिन किसी भी कक्ष में इनकी संख्या दो से कम नहीं होगी, भले ही अभ्यर्थी 30 से कम हों।
-ओएमआर शीट पर अशुद्ध लिखने के बाद सफेदा या व्हाइटनर का प्रयोग नहीं करना होगा। ऐसा होने पर ओएमआर शीट निरस्त कर दी जाएगी।
-यदि कोई अभ्यर्थी सादी ओएमआर शीट जमा करता है तो कक्ष निरीक्षक उसे अभ्यर्थी से क्रास करा देंगे।
-परीक्षा शुरू होने के 30 मिनट पहले परीक्षा भवन में प्रवेश दिया जाएगा।

Leave a Comment